Category: Motivational Story

Motivational Story from Bhagavan Buddha

Motivational Story from Bhagavan Buddha

Hindi Motivational Story from भगवान बुद्ध

भगवान बुद्धअक्सर अपने शिष्यों को शिक्षा प्रदान किया करते थे। एक दिन प्रातः काल बहुत से भिक्षुक उनका प्रवचन सुनने के लिए बैठे थे । बुद्ध समय पर सभा में पहुंचे, पर आज शिष्य उन्हें देखकर चकित थे क्योंकि आज पहली बार वे अपने हाथ में कुछ लेकर आए थे। करीब आने पर शिष्यों ने देखा कि उनके हाथ में एक रस्सी थी। बुद्ध ने आसन ग्रहण किया और बिना किसी से कुछ कहे वे रस्सी में गांठें लगाने लगे ।

 

वहाँ उपस्थित सभी लोग यह देख सोच रहे थे कि अब बुद्ध आगे क्या करेंगे ; तभी बुद्ध ने सभी से एक प्रश्न किया, ‘ मैंने इस रस्सी में तीन गांठें लगा दी हैं , अब मैं आपसे ये जानना चाहता हूँ कि क्या यह वही रस्सी है, जो गाँठें लगाने से पूर्व थी ?’

 

एक शिष्य ने उत्तर में कहा,” गुरूजी इसका उत्तर देना थोड़ा कठिन है, ये वास्तव में हमारे देखने के तरीके पर निर्भर है। एक दृष्टिकोण से देखें तो रस्सी वही है, इसमें कोई बदलाव नहीं आया है । दूसरी तरह से देखें तो अब इसमें तीन गांठें लगी हुई हैं जो पहले नहीं थीं; अतः इसे बदला हुआ कह सकते हैं। पर ये बात भी ध्यान देने वाली है कि बाहर से देखने में भले ही ये बदली हुई प्रतीत हो पर अंदर से तो ये वही है जो पहले थी; इसका बुनियादी स्वरुप अपरिवर्तित है।”

 

“सत्य है !”, बुद्ध ने कहा ,” अब मैं इन गांठों को खोल देता हूँ।”यह कहकर बुद्ध रस्सी के दोनों सिरों को एक दुसरे से दूर खींचने लगे। उन्होंने पुछा, “तुम्हें क्या लगता है, इस प्रकार इन्हें खींचने से क्या मैं इन गांठों को खोल सकता हूँ?”

 

“नहीं-नहीं , ऐसा करने से तो या गांठें तो और भी कस जाएंगी और इन्हे खोलना और मुश्किल हो जाएगा। “, एक शिष्य ने शीघ्रता से उत्तर दिया।

 

बुद्ध ने कहा, ‘ ठीक है , अब एक आखिरी प्रश्न, बताओ इन गांठों को खोलने के लिए हमें क्या करना होगा ?’

 

शिष्य बोला , “इसके लिए हमें इन गांठों को गौर से देखना होगा, ताकि हम जान सकें कि इन्हे कैसे लगाया गया था , और फिर हम इन्हे खोलने का प्रयास कर सकते हैं।”

 

“मैं यही तो सुनना चाहता था। मूल प्रश्न यही है कि जिस समस्या में तुम फंसे हो, वास्तव में उसका कारण क्या है, बिना कारण जाने निवारण असम्भव है। मैं देखता हूँ कि अधिकतर लोग बिना कारण जाने ही निवारण करना चाहते हैं , कोई मुझसे ये नहीं पूछता कि मुझे क्रोध क्यों आता है, लोग पूछते हैं कि मैं अपने क्रोध का अंत कैसे करूँ ? कोई यह प्रश्न नहीं करता कि मेरे अंदर अंहकार का बीज कहाँ से आया , लोग पूछते हैं कि मैं अपना अहंकार कैसे ख़त्म करूँ ?

प्रिय शिष्यों , जिस प्रकार रस्सी में में गांठें लग जाने पर भी उसका बुनियादी स्वरुप नहीं बदलता उसी प्रकार मनुष्य में भी कुछ विकार आ जाने से उसके अंदर से अच्छाई के बीज ख़त्म नहीं होते। जैसे हम रस्सी की गांठें खोल सकते हैं वैसे ही हम मनुष्य की समस्याएं भी हल कर सकते हैं। इस बात को समझो कि जीवन है तो समस्याएं भी होंगी ही , और समस्याएं हैं तो समाधान भी अवश्य होगा, आवश्यकता है कि हम किसी भी समस्या के कारण को अच्छी तरह से जानें, निवारण स्वतः ही प्राप्त हो जाएगा । ” , महात्मा बुद्ध ने अपनी बात पूरी की।  

 

दोस्तों आपको यह स्टोरी “Hindi Motivational Story from भगवान बुद्ध”  कैसी लगी और आपने क्या सीखा वो हमारे साथ कमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करे |


इस मोटिवेशनल स्टोरी भगवान बुद्ध को आपने दोस्तों के साथ ज़रूर से शेयर करे !

आप मेरी मोबाइल डाउनलोड करे

Parikshit Jobanputra's mobile App Banner
Download "Parikshit Jobanputra Life Coach" Mobile App
Leadership Motivational Story By Russi Mody

Leadership Motivational Story By Russi Mody

Leadership Motivational Story

Russi Mody, Chairman of Tata Steel,  जमशेदपुर  के फुटबॉल मैदान में टाटा स्टील के कर्मचारियों के साथ साप्ताहिक बैठक कर रहे थे।

एक worker ने एक मुद्दा उठाया  कि worker के लिए शौचालयों की “गुणवत्ता “ और “स्वच्छता“ बहुत खराब है। जबकि Executive शौचालयों की “गुणवत्ता “और “स्वच्छता” हमेशा बहुत अच्छी होती है|

Russi ने अपने “Top Executive” से पूछा कि इस समस्या को हल करने के लिए कितना समय तय कर

Leadership,Leadership Motivation

ना चाहिए| Top Executive ने एक महीना कहा। Russi ने  कहा, “मैं  इसे  एक  दिन  में  करना  चाहता हूं। Send me a carpenter.”

अगले दिन, जब Carpenter आया, तो उन्होंने Sign Boards को  Swap करने का आदेश दिया! “worker” शौचालय पर, हस्ताक्षर बोर्ड को “Executive” और “ Executive ” शौचालय पर, हस्ताक्षर बोर्ड को “worker” शौचालय में बदल दिया गया था।

फिर  Russi  ने हस्ताक्षर बोर्ड को ” हर दूसरे दिन ” वापस बदलने का निर्देश दिया!

Leadership Motivational Storyदोनों शौचालयों की “गुणवत्ता” और “स्वच्छता”  3 दिनों में एक समान हो गई|

इस समस्या का एक “समाधान” जो तत्काल और स्थायी था|

” Debriefing of this Story “

एक Leader के रूप में, हमारा काम “समस्या” को “शांति” से सुनना हे, लेकिन “समाधान” पे जल्दी से काम करना भी हे|और यह की, समस्या को “शीघ्र हल” करने के लिए हमें हमेशा “नए तरीके ढूंढते रहेना चाहिए”। जब आप इस मानसिकता को प्राप्त करते हैं, तो सामान्य Leadership से लेकर  Russi Mody  जैसी महान Leadership के लिए आप अपना रास्ता शुरू कर सकते हे|

“Leadership शीर्षक या पदनाम के बारे में नहीं है| यह “प्रभाव”, “प्रभावशीलता” और “प्रेरणा” के बारे में है| प्रभाव में “परिणाम” प्राप्त करना शामिल है, प्रभाव आपके काम के लिए जुनून को फैलाना है, और आपको टीम के “साथी” और “ग्राहकों” को प्रेरित करना है|

If you like this story, Share this Motivational Story with your friends…

Read Other Story,motivational-story of Bhagavan-buddha  :- Click Here

Watch Our  Video, Motivational-Story of  Bhagavan-Buddha  :- Click Here

– Parikshit Jobanputra 

 

10-Tips for Effective Public Speaking in Hindi

10-Tips for Effective Public Speaking in Hindi

10-Tips for Effective Public Speaking in Hindi

 

मेरे 12 साल के अनुभव में 10-लाख से अधिक लोगो को अड्रेस करने के बाद यह 10 स्टेप्स Effective Public Speaking के आपको बताने जा रहा हु , आपभी मेरी तरह डरे बिना कॉन्फिडेंस के साथ स्टेज पर बोल पाएंगे |   इन सारे स्टेप्स को न सिर्फ पढ़े किन्तु अलगसे नोट भी कर ले |

 

1) तैयारी करें :-

Effective Public Speaking  मे, ये पहला और सबसे ज़रूरी पॉइंट है| आप जिस विषय पर, जिस जगह और जिस समूह के सामने स्पीच देने वाले हैं , उसके according आपकी तैयारी होनी चाहिए। तैयारी करने के लिए खुद को पर्याप्त समय दें, Google , अख़बारों , लाइब्रेरी का पूरा प्रयोग करें और जबरदस्त कंटेंट तैयार करें, मिरर के  सामने  उसकी practice करें, हो सके तो अपने speech की mobile recording कर के सुनें  और गलितयों को सुधारें |  याद रखें आप चाहे कितना अच्छा बोलना क्यों न जानते हों , अगर आपका कंटेंट अच्छा नहीं है तो बात नहीं जमेगी |

 

2) श्रोताओं से जुड़ें :-

यदि आप एक सफल वक्ता बनना चाहते हैं, हमेशा श्रोताओं से जुड़ने का प्रयास कीजिये, जब आप श्रोता को एक दोस्ताना माहौल देते हैं, उनके व्यवसाय, उनकी समस्याओं, की बात करते हैं तो श्रोता को कभी भी अकेलापन महसूस नहीं होता| आपकी जिंदगी के छोटे-छोटे किस्से और उनकी जिंदगी से जुड़ी बातें, छोटी-छोटी खुशियों के पल, जब आपकी भाषण के बीच में आते हैं तो श्रोता को आपको अपनाने में देर नहीं लगती| यदि आप श्रोताओं, संस्था या उस समाज की किसी विशिष्ट उपलब्धि की चर्चा उनके सामने करते हैं, तो प्रतिक्रिया में उनके मुँह खुले के खुले रह जाते हैं, क्योंकि वे सुनकर हैरान हो जाते हैं कि सब वक्ता को पता कैसे चला!

यदि आप पहले भी कभी उनके शहर में आ चुके हों तो उन बातों को दोहराइए, उस शहर के यादगार लम्हों को उनके सामने रखिये| उस स्थान के दुर्लभ स्मारकों की बात कीजिये| यदि उस अनगिनत की भीड़ में भी आप कुछ लोगों को जानते हों और वे प्रतिष्ठित हों, तो उनका आदरपूर्वक जिक्र कीजिये |

हमेशा ऐसी बातें करने का प्रयास कीजिये जैसे आप खुद उस शहर से बहुत दिनों से जुड़े हों, उन लोगों के प्रति आपके दिल में बहुत प्यार और स्नेह है और आप खुद भी उस शहर से बेहद प्यार करते हैं|  ये बातें जितना अधिक आपके ह्रदय से निकलेंगी उतना ही श्रोता आपको पसंद करंगे , बनावटी बातें किसी को पसंद नहीं आतीं। और जितना ज्यादा श्रोता आपको पसंद करंगे, उतना ही अधिक वो आप पर विश्वास करेंगे |

 

3) Eye contact रखें :-

एक अच्छा Speaker speech देते वक़्त हमेशा audience की आँखों में  देखता  है  , ऐसा करने से उसके self-confidence का पता चलता  है। आप भी इस बात का पूरा ध्यान रखें कि आप इधर – उधर देखने की बजाये श्रोताओं को देखें | और ये भी ध्यान दें कि आप एक ही तरफ ये कुछ विशेष व्यक्तियों को ही नहीं देख रहे बल्कि बारी-बारी पूरे group से नज़र मिला रहे हैं |

 

4)  ज़मीन से जुड़कर अपनी बात कहें :-

कुछ लोग स्टेज पर जाते ही खुद को बड़ा समझने लगते हैं और सुनने वाले को एकदम सामान्य! आप श्रोताओं को कभी खुद से कम मत आंकिये क्योंकि श्रोता आपको सुनने के लिए उपस्थित हैं इस कारण आप स्टेज पर खड़े हैं| बड़ी-बड़ी बातों से डींगें हांकने की जगह साधारण इंसान की तरह सामान्य शब्दों में अपनी बात श्रोताओं तक पहुंचाइए| इस बात का ध्यान मन में हमेशा होना चाहिए कि बड़ी-बड़ी और साहित्यिक बातें सिर्फ प्रशंसा के लिए अच्छी लगती हैं परन्तु सामान्य बातें सीधे श्रोता के दिल पर असर डालती हैं| बड़ा व्यक्ति जितना ज़मीन से जुड़कर बात कहता है उतनी ही ज्यादा वह प्रसिद्धि हासिल करता है |

 

5) हमेशा Positive रहें और श्रोताओं को उत्साहित करें:-

आपको जिस Topic पर Speech देने के लिए बुलाया गया है उस विषय पर हमेशा खुद को Positive रखिये| आपका पूरा उत्साह आपकी बातों और शरीर से झलकता हुआ प्रतीत होना चाहिए| आपने कभी नीलामी होते हुए जरूर देखा होगा, वहाँ मुख्य वक्ता किस तरह से पूरे उत्साह से भरकर बोली लगाता है कि देखते ही देखते वो सबको अपनी ओर इतना आकर्षित कर देता है कि लोग अपनी हैसियत से ऊँची बोली लगा बैठते हैं| जब भी आप अपना भाषण श्रोताओं तक पहुँचाने वाले हों तो स्वयं को उत्साह के चरम सीमा पर लेजाइये| आपका आत्मविश्वास और उत्साह लोगों के दिल में आपकी जगह सुरक्षित कर देगा |

 

6) Speech बिना देखे बोलें :-

अगर एक प्रभावी Trainer / Speaker बनना है तो आपको बिना देखे बोलना आना चाहिए | Of course आप अपने साथ कुछ Notes रख सकते हैं , या पूरा का पूरा भाषण भी type कर के ले जा सकते हैं | पर आपकी practice इतनी होनी चाहिए कि सुनने वाले को ये लगे कि आप बोल रहे हैं पढ़ नहीं रहे हैं |

Again, बिना देखे खराब भाषण देने से अच्छा है देख कर  सही बातें बोली जाएं | इसलिए अगर आप  बिना देखे बोलने में comfortable नहीं हैं तो  किसी बड़े occasion पर इसे try करने के बजाये छोटे-मोटे अवसरों पर ऐसा करने का attempt कर सकते हैं| Practice से कुछ भी सीखा जा सकता है , इसलिए एक प्रभावशाली Public Speaker / Trainer बनने के लिए आपको बिना  देखे बोलने की कला में पारंगत होना होगा |

 

7) निंदा से हमेशा बचेंप्रशंसा से दिल जीतें :-

श्रोताओं या उनसे जुड़ी चीजों की निंदा करने से बचें,  ध्यान रखना चाहिए कि आपके मुँह से निकली बात सामने वाले पर पूरा प्रभाव डालेगी| कई बार हम किसी क्षेत्र और वहाँ की अव्यवस्थाओं पर कड़े और तीखे भरे स्वर में निंदा कर देते हैं,  आप निंदा करके रातों -रात चीजों को बदल नहीं सकते , इसलिए किसी कमी पर ध्यान केंद्रित करने की बजाये उस कमी को दूर करने के उपायों पर बात करना सही होगा , और यही आपके श्रोताओं को भी अच्छा लगेगा।

श्रोताओं का दिल खोलकर वास्तविक प्रशंसा करें, क्योंकि प्रशंसा ही दिल को जीतने का सबसे अच्छा माध्यम है| श्रोता बहुत समझदार होते हैं , उन्हें मख्खनबाजी और वास्तविकता का फर्क बहुत अच्छे से पता होता है |

 

8) Humour का प्रयोग करें :-

अच्छे वक्ताओं का एक बहुत बड़ा हथियार होता है Humour / हास्य,  भाषण में बीच -बीच में हास्य का प्रयोग श्रोताओं को बांधे रखता है और गंभीर विषयों को भी नीरस होने से बचाता है|  हास्य का एक अहम पहलु है , “खुद पर हंसना”, ऐसा करना आपके व्यक्तित्व की विनम्रता को उजागर करता है| आपसे सम्बंधित कोई मजाकिया अनुभव श्रोताओं के बीच रखकर आप माहौल को खुशनुमा बना सकते हैं | और ये भी ध्यान रखें कि कभी  किसी Religion, Political party, Race, Sex, Etc, को लेकर कोई मज़ाक न करें |

 

9) Time Limit में भाषण पूरा करें :-

कई बार लोग शुरुआत तो अच्छी करते हैं पर अपनी बात को इतना खींचते चले जाते हैं कि श्रोता बोर हो जाते हैं। कम शब्दों में अपनी बात कहना एक कला है , और एक अच्छा वक्ता इस बात को बखूबी जानता है| इसलिए आपको भाषण के लिए जितना समय दिया गया है उतने में ही अपनी बात पूरी करिये। याद रखिये एक अच्छा वक्ता वो नहीं होता जो सिर्फ अच्छी तरह भाषण शुरू करना जानता है , बल्कि वो वो होता है जो सही समय पर रुकना भी जानता है ।

 

10) अंत भला तो Speaker भला :-

Speech का अंत प्रभावशाली होना चाहिए | स्पीच के अंत में लोगों में जोश पैदा होना चाहिए, या उन्हें अच्छा feel होना चाहिए। आप कुछ शेरो-शlयरी, Inspiring Story या कोई अच्छा सा quote use कर सकते हैं। Speech को positivenote पे end करना उसे यादगार बना देता है और लम्बे समय तक लोग Speaker को याद रखते हैं | अतः भाषण का अंत कैसे हो इसपर विशेष ध्यान दें |

Friends, आज आप चाहे जैसे भी वक्ता हों, Practice, Patience और Preparation से आप एक उच्च स्तर Motivational Speaker बन सकते हैं |  तो चलिए इन बातों का ध्यान रखते हुए अपने efforts में जुट जाइए और महान वक्ताओं की श्रेणी में खुद भी शामिल हो जाइए |

Thanks & All the best!

If you like this, Share this article with your friends…

Read New blog on How To Become Motivational Speaker:- Click Here

Watch Our New Video, How to Choose Motivational Speaker:-Click Here 

– Parikshit Jobanputra 

Now be a Motivational Speaker & Life Management Coach. Join Train The Trainer Workshop.

Inspirational Story: “Where there is a WILL, there is always a way”

Inspirational Story: “Where there is a WILL, there is always a way”

Inspirational Story: “Where there is a WILL, there is always a way” 

Long ago, in China, there lived a big businessman whose business was to sell combs. Now that he was becoming old and about to retire, he wanted to place the business into wise and able hands.

So, he called forth his three sons and instructed them, that their assignment was to sell combs in the Buddhist monastery. The sons were shocked and confused because the monks in the monastery were bald and they never grew any hair. Anyhow, the three sons went about the job that was assigned to them.

After two days, the first son reported he had sold two combs. When the father asked how, he replied, that he instructed the monks that the comb would be a valuable tool for scratching their backs in case of itching.

The second son appeared later and told that he had sold ten combs by advising the monks that the combs would help their visitors and pilgrims to comb their hair before entering the monastery, as their hair might have ruffled during the journey to the monastery.

Then the third son came out with a surprising sales figure of a thousand Combs. The father filled with happiness and anxiety asked him how he had achieved such a feat.

The third son replied, that he gave the monks an idea.The idea was, that if some of the teachings of Buddha were to be printed/embossed on the comb and given as a take away gift to the visitors and pilgrims; they will remember the teachings of Buddha on a daily basis while combing their hair.
This creative idea struck the deal.

The simple story above goes to show that, “Where there is a WILL, there is always a way”

Our Attitude Shapes our Action and Results also, when faced with challenge how will you respond? How can you create new need/desire for your customers? Kindly Leave your comments…

 Hope you enjoyed the Inspirational Story,  

“Share this Inspirational Story to your friends”

Want More Life Changing Stories??? Click Here

सफल होने के लिए No:1 सीक्रेट ! No:1 Secret for Success !

सफल होने के लिए No:1 सीक्रेट ! No:1 Secret for Success !

मैं Parikshit Jobanputra – Motivational Speaker & Life Coach, इस हफ्ते के नए Hindi motivational blog, No:1 Secret for Success मेंआप का स्वागत करता हूं l आज की यह जो blog वह हमें जीवन के अंदर हमारे dreams के लिए हमें मेहनत करना और डटे रहना सिखाता है l

ज्यादातर लोग अपने जीवन में सिर्फ और सिर्फ problems को देखते हैं और problems को देखते हुए उन्हें लगता है कि उनके जीवन में सफल होना संभव नहीं है l उन्हें लगता है सफलता शायद उनके नसीब में नहीं है l

पर दोस्तों मैं यह Secret for Success बताना चाहता हूं कि असंभव या IMPOSSIBLE हकीकत नहीं है, वह मात्र और मात्र किसी व्यक्ति का मंतव्य है और उस बात को आप के जीवन की हकीकत न बनने दें l

किसी भी लक्ष्य को यदि आप पूरे दिल से चाहते हो और उस बात के लिए कड़ी मेहनत करते हो तो दुनिया में कुछ भी पाना नामुमकिन नहीं है दोस्तों l

  • एक ऐसा लड़का जिसके पिता fishing का काम किया करते थे, वह लड़का अपने परिवार का पेट भरने के लिए लोगों के घर जाकर newspaper  बेचा करता था वह लड़का भला क्या कर पाता ? वह व्यक्ति pilot के interview में भी फेल हुए थे और दोस्तों आज पूरी दुनिया उन्ही Missile Man  के नाम से जानती है l Abdul Kalam अपनी सच्ची लगन मेहनत और ईमानदारी से ना सिर्फ एक scientist बने, बल्कि INDIA के president भी बने l
  •  All India Radio(AIR)  में अपनी भद्दी आवाज की वजह से reject  हुए थे, वह दुखी नहीं हुए ,बैठ नहीं, गए हार नहीं मानी लेकिन कड़ी मेहनत से अपनी आवाज को सबसे ज्यादा फेमस कर दिया और वह है अमिताभ बच्चन l
  •  लोग कहते हैं कि अच्छी communication के बिना अच्छा career  बना पाना मुमकिन नहीं है लेकिन एक व्यक्ति जिन्होंने अपने career  के लिए एक भी शब्द नहीं बोला और फिर भी दुनिया के सफल व्यक्तियों के बीच में अपना नाम लिख दिया और वह Charlie Chaplin l

SUBSCRIBE FOR MORE MOTIVATIONAL VIDEOS: CLICK HERE

Secret for Success – जो भी आप के reasons आपको सफलता की ओर आगे ले जाने से रोक रहे है हमें उन reasons को रोकने की जरूरत है, हम जो भी चाहे वह definitely पूरा कर सकते हैं l

  •  जीने टीचर दिमागी तौर पर slow मानते थे, जो बच्चा अपने जीवन में 4 साल की उम्र तक बोल नहीं पाया ,जो 7 साल की उम्र तक पढ़ नहीं पाया, वही बच्चा बड़ा होकर Albert Einstein बनता है l
  •  एक व्यक्ति जिसकी फिल्म की स्क्रिप्ट के लिए उनको 1500 से भी ज्यादा बार reject किया गया फिर भी वह अपने GOAL पर अडिग रहें और अपनी मेहनत चालू रखी l उन्होंने “ROCKY”  जैसी सुपर डुपर हिट फिल्म बना  दी और वह व्यक्ति थे  Sylvester Stallone l

इतनी बार नाकामयाबी मिलने के बावजूद भी उन्होंने अपने प्रयत्न में कभी भी कमी नहीं आने दी,  Secret for Success वैसे ही आप भी निष्फलता से डरे बिना अपने गोल के लिए सतत प्रयत्न करते रहे l

  • एक ऐसा व्यक्ति जो ग्रेजुएट होने के बाद तकरीबन 30 से ज्यादा job में apply करता है और हर बार उन्हें  नाकामयाबी मिलती है l हर जॉब में उनको एक ही बात सुनने को मिलती है  that is  “you are not good” l वह व्यक्ति अपने जीवन में हार नहीं मानते और अपने लिए सफलता की नई राह चुनते  हैं, वह व्यक्ति है JACK MA. आज alibaba.com की वेबसाइट से पूरी दुनिया में फेमस है और दुनिया के Top Rich लोगों के अंदर भी उनका नाम है l
  • एक बच्चा  10th standard  में STD-PCO में पार्ट टाइम काम किया करता था, गरीबी के कारण जो बच्चा 12th  standard तक government school में पढ़ा, जो बच्चा अमृतसर के “Laughter Challenge” के ऑडिशन में फर्स्ट टाइम रिजेक्ट हो गया वह व्यक्ति ने भी अपने जीवन के अंदर हार नहीं मानी l फिर से audition देने के लिए दिल्ली पहुंच गए और वहां पर ना सिर्फ उनको सिलेक्ट किया गया पर दोस्तों वह पहले नंबर से जीते वह व्यक्ति है Kapil Sharma l

सोचे Secret for Success कि हर जो व्यक्ति सफल हुआ है उसको कहीं ना कहीं कभी न कभी निष्फलता का सामना करना पड़ा है l

  •  Michael Jordan बास्केटबॉल के लिए पूरी दुनिया में माने जाते हैं पर दोस्तों आपको जान कर हैरानी होगी कि बचपन में उन्हें भी अपने स्कूल के बास्केट बॉल की टीम से निकाला गया था कहते हुए कि आप उतना अच्छा नहीं खेल पाते हो l

जितने भी सक्सेसफुल लोग हुए हैं सभी लोगों की जीवन का मैने स्टडी किया है और सभी लोगों को कोई ना कोई मुश्किल कोई परेशानी आई थी l इन सारे example के द्वारा मैं भी आपको वही Secret for Success बताना चाहता हूं कि यदि आज आपके जीवन में परेशानी है आपके जीवन में कोई मुश्किल है तो चिंता ना करें, अपने आप पर विश्वास रखें l

भले शुरुआत में आपको सफलता ना मिले फिर भी आप डेट रहे, पुरे लगन के साथ अपना काम चालू रखें l और एक दिन यही लोग होंगे जो आपके लिए खुश होकर तालियां बजाते होंगे l

एक बात  जरूर से ध्यान रखें कि “IMPOSSIBLE” शब्द को भी यदि हम अलग करके देखते हैं तो वह खुद ही कहता है

“ I AM POSSIBLE “

Secret for Success आज से अपने लक्ष्य के लिए डटे रहे और आपके जीवन में बहुत सारी सफलता पाएं ऐसी ढेर सारी शुभकामनाओं के साथ मैं आप को अलविदा कहना चाहता हूं l   – Parikshit Jobanputra

हिंदी इंस्पिरेशनल स्टोरी on effective communication

हिंदी इंस्पिरेशनल स्टोरी on effective communication

हिंदी इंस्पिरेशनल स्टोरी on effective communication.

 

 

 

 

 

 

 

 

We must respect women in our life

We must respect women in our life

में परीक्षित जोबनपुत्रा आप से एक घटना शेयर करने जा रहा हूँ, जो हमें inspire करती हे की (We must respect women in our life) हमे हमारे जीवन में स्त्री को ज़्यादा सन्मान देना चाहिए l अपेक्षा रखता हूँ के आपको पसंद आएगी l आपका फीडबैक ज़रूर से शेयर करे l

स्त्री क्या है ?

जब भगवान स्त्री की रचना कर रहे थे तब उन्हें काफी समय लग गया ।

आज छठा दिन था और स्त्री की रचना अभी भी अधूरी थी।
इसिलए देवदूत ने पूछा भगवन्, आप इसमें इतना समय क्यों ले रहे हो…?

भगवान ने जवाब दिया, “क्या तूने इसके सारे गुणधर्म (specifications) देखे हैं, जो इसकी रचना के लिए जरूरी है ?

१. यह हर प्रकार की परिस्थितियों को संभाल सकती है

२. यह एक साथ अपने सभी बच्चों को संभाल सकती है एवं खुश रख सकती है ।

३. यह अपने प्यार से घुटनों की खरोंच से लेकर टूटे हुये दिल के घाव भी भर सकती है ।

४. यह सब सिर्फ अपने दो हाथों से कर सकती है

५. इस में सबसे बड़ा “गुणधर्म” यह है कि बीमार होने पर भी अपना ख्याल खुद रख सकती है एवं 18 घंटे काम भी कर सकती है।

देवदूत चकित रह गया और आश्चर्य से पूछा-

“भगवान ! क्या यह सब दो हाथों से कर पाना संभव है ?”

भगवान ने कहा यह स्टैंडर्ड रचना है
(यह गुणधर्म सभी में है )

देवदूत ने नजदीक जाकर स्त्री को हाथ लगाया और कहा, “भगवान यह तो बहुत नाज़ुक है”

भगवान ने कहा हाँ यह बहुत ही नाज़ुक है, मगर इसे बहुत Strong बनाया है ।

इसमें हर परिस्थितियों को संभालने की ताकत है

देवदूत ने पूछा क्या यह सोच भी सकती है ??

भगवान ने कहा यह सोच भी सकती है और मजबूत हो कर मुकाबला भी कर सकती है।

देवदूत ने नजदीक जाकर स्त्री के गालों को हाथ लगाया और बोला, “भगवान ये तो गीले हैं। लगता है इसमें से लिकेज हो रहा है।”

भगवान बोले, “यह लीकेज नहीं है, यह इसके आँसू हैं।”

देवदूत: आँसू किस लिए ??

भगवान बोले : यह भी इसकी ताकत हैं । आँसू इसको फरीयाद करने एवं प्यार जताने एवं अपना अकेलापन दूर करने का तरीका है

देवदूत: भगवान आपकी रचना अदभुत है । आपने सब कुछ सोच कर बनाया है, आप महान है

भगवान बोले-
यह स्त्री रूपी रचना अदभुत है । यही हर पुरुष की ताकत है जो उसे प्रोत्साहित करती है। वह सभी को खुश देखकर खुश रहतीँ है। हर परिस्थिति में हंसती रहती है । उसे जो चाहिए वह लड़ कर भी ले सकती है। उसके प्यार में कोइ शर्त नहीं है (Her love is unconditional) उसका दिल टूट जाता है जब अपने ही उसे धोखा दे देते है । मगर हर परिस्थितियों से समझौता करना भी जानती है।

देवदूत: भगवान आपकी रचना संपूर्ण है।

भगवान बोले ना, अभी इसमें एक त्रुटि है

“यह परिवार के लिए अपनी “महत्वत्ता” भूल जाती है”
( “For the family, She often forgets what she is worth”. )

सभी आदरणीय स्त्रीयों को समर्पित।

(To all respectful women)

  – Parikshit Jobanputra

Life Management Coach

 

उबुन्टु Hindi Inspiring Story

उबुन्टु Hindi Inspiring Story

उबुन्टु ( UBUNTU ) – एक सुंदर कथा :

कुछ आफ्रिकन आदीवासी बच्चों को एक मनोविज्ञानी ने एक खेल खेलने को कहा।

उसने एक टोकरी में मिठाइयाँ और कैंडीज एक वृक्ष के पास रख दिए।

बच्चों को वृक्ष से 100 मीटर दूर खड़े कर दिया।

फिर उसने कहा कि, जो बच्चा सबसे पहले पहुँचेगा उसे टोकरी के सारे स्वीट्स मिलेंगे।

जैसे ही उसने, _रेड़ी स्टेडी गो_ कहा…..

तो जानते हैं उन छोटे बच्चों ने क्या किया ?

सभी ने एक दुसरे का हाँथ पकड़ा और एक साथ वृक्ष की ओर दौड़ गए.
पास जाकर उन्होंने सारी मिठाइयाँ और कैंडीज आपस में बराबर बाँट लिए और मजे ले लेकर खाने लगे।

जब मनोविज्ञानी ने पूछा कि, उन लोगों ने ऐंसा क्यों किया ?

तो उन्होंने कहा— “उबुन्टु ( Ubuntu ) “

जिसका मतलब है,

” कोई एक व्यक्ति कैसे खुश रह सकता है जब, बाकी दूसरे सभी दुखी हों_ ? “

उबुन्टु* ( Ubuntu ) का उनकी भाषा में मतलब है,

” मैं हूँ क्योंकि, हम हैं ! “

सभी पीढ़ियों के लिए एक सुन्दर सन्देश,
आइए इस के साथ सब ओर जहाँ भी जाएँ, खुशियाँ बिखेरें,

आइए  उबुन्टु  ( Ubuntu ) वाली जिंदगी जिएँ…..

” मैं हूँ, क्योंकि, हम हैं….!!!
I AM,_Because_, WE ARE…..!!!”

साथ सदैव बना रहै…!

Parikshit JobanputraLife Management Coach

30 प्रेरणादायक सुविचार जो जिंदगी बदल दे (30 inspirational Quotes)

30 प्रेरणादायक सुविचार जो जिंदगी बदल दे (30 inspirational Quotes)

30-Inspirational Quotes – Life Changing Motivational Quotes

 

1 :  “जब लोग आपको “COPY” करने लगें तो समझ लेना जिंदगी में “SUCCESS” हो रहे हों.”

2 :  “कमाओ…कमाते रहो और तब तक कमाओ, जब तक महंगी चीज सस्ती न लगने लगे.”

3 : “जिस व्यक्ति का लालच खत्म, उसकी तरक्की भी खत्म.”

4 :  “यदि “Plan-A” काम नही कर रहा, तो कोई बात नही 25 और Letters बचे हैं उन पर Try करों.”

5 : “जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं कि उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की.”

6: “भीड़ हौंसला तो देती हैं लेकिन पहचान छिन लेती हैं.”

7 : “अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने में लग जाती हैं.”

8 : “कोई भी महान व्यक्ति अवसरों की कमी के बारे में शिकायत नहीं करता.”

9 : ” महानता कभी ना गिरने में नहीं है, बल्कि हर बार गिरकर उठ जाने में है.”

10 : “जिस चीज में आपका Interest हैं उसे करने का कोई टाईम फिक्स नही होता. चाहे रात के 1 ही क्यों न बजे हो.”

11 : “अगर आप चाहते हैं कि, कोई चीज अच्छे से हो तो उसे खुद कीजिये.”

12 : “सिर्फ खड़े होकर पानी देखने से आप नदी नहीं पार कर सकते.”

13 : ” जीतने वाले अलग चीजें नहीं करते, वो चीजों को अलग तरह से करते हैं.”

14 : ” जितना कठिन संघर्ष होगा जीत उतनी ही शानदार होगी.”

15 : “यदि लोग आपके लक्ष्य पर हंस नहीं रहे हैं तो समझो आपका लक्ष्य बहुत छोटा हैं.”

 

Watch Hindi Motivational Video for Success in Life by Parikshit Jobanputra:

 

                      30-Inspirational Quotes – Life Changing Motivational Quotes

16 : “विफलता के बारे में चिंता मत करो, आपको बस एक बार ही सही होना हैं.”

17 : “सबकुछ कुछ नहीं से शुरू हुआ था.”

18 : “हुनर तो सब में होता हैं फर्क बस इतना होता हैं किसी का छिप जाता हैं तो किसी का छप जाता हैं.”

19 : “दूसरों को सुनाने के लिऐ अपनी आवाज ऊँची मत करिऐ, बल्कि अपना व्यक्तित्व इतना ऊँचा बनाऐं कि आपको सुनने की लोग मिन्नत करें.”

20 : “अच्छे काम करते रहिये चाहे लोग तारीफ करें या न करें आधी से ज्यादा दुनिया सोती रहती है ‘सूरज’ फिर भी उगता हैं.”

21 : “पहचान से मिला काम थोडे बहुत समय के लिए रहता हैं लेकिन काम से मिली पहचान उम्रभर रहती हैं.”

22 : “जिंदगी अगर अपने हिसाब से जीनी हैं तो कभी किसी के फैन मत बनो.”

23 : “जब गलती अपनी हो तो हमसे बडा कोई वकील नही जब गलती दूसरो की हो तो हमसे बडा कोई जज नही.”

24 : “आपका खुश रहना ही आपका बुरा चाहने वालो के लिए सबसे बडी सजा हैं.”

25 : “कोशिश करना न छोड़े, गुच्छे की आखिरी चाबी भी ताला खोल सकती हैं.”

26 : “इंतजार करना बंद करो, क्योकिं सही समय कभी नही आता.”

27 : “जिस दिन आपके Sign – Autograph में बदल जाएंगे, उस दिन आप बड़े आदमी बन जाओगें.”

28 : “काम इतनी शांति से करो कि सफलता शोर मचा दे.”

29 : “तब तक पैसे कमाओ जब तक तुम्हारा बैंक बैलेंस तुम्हारे फोन नंबर की तरह न दिखने लगें.”

30 : “अगर एक हारा हुआ इंसान हारने के बाद भी मुस्करा दे तो जीतने वाला भी जीत की खुशी खो देता हैं. ये हैं मुस्कान की ताकत.”

Hope you enjoyed Hindi Motivational Quotes. If yes, Share with your friends & leave your comments!

X